एनसीएल में कोविड प्रोटोकॉल के साथ मनाया गया विश्व पर्यावरण दिवस 2021

Share

पर्यावरण संरक्षण व स्वस्थ पारिस्थितिकी तंत्र एनसीएल की प्राथमिकता-  प्रभात कुमार सिन्हा
सीएमडी ने एनसीएल कर्मियों से किया पेड़ लगाने का आवाहन

सोनभद्र/सिंगरौली भारत सरकार की मिनी रत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड(एनसीएल) के मुख्यालय में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए विश्व पर्यावरण दिवस 2021 के केंद्रीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया |इस अवसर पर सीएमडी, एनसीएल  प्रभात कुमार सिन्हा ने वर्चुअल माध्यम से जुड़कर सभी एनसीएल कर्मियों एवं हितग्राहियों को विश्व पर्यावरण दिवस-2021 की शुभकामनायें दीं |  सिन्हा ने कहा कि कोयला मंत्रालय, भारत सरकार व कोल इंडिया के दिशा निर्देशन में एनसीएल दीर्घकालिक विकास, पर्यावरण संरक्षण, प्रदूषण नियंत्रण तथा पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली की दिशा में उल्लेखनीय प्रयास कर रही है |  एनसीएल ने अभी तक लगभग 2.47 करोड़ से अधिक पौधे लगाए है और यह मुहिम आगे भी इसी तरह चलती रहेगी |  ने एनसीएल परिक्षेत्र में प्रदूषण नियंत्रण हेतु चल रही एफ़एमसी(फ़र्स्ट माइल कनेक्टिविटी) परियोजनाओं के बारे में जानकारी दी और पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन हेतु एनसीएल की प्रतिबद्धता व्यक्त की |कार्यक्रम की शुरुआत, एनसीएल के निदेशक(कार्मिक) विमलेंदु कुमार ने पर्यावरण दिवस के झंडे को फहराकर की | इस अवसर पर एनसीएल के निदेशक(तकनीकी/संचालन)  अनिंद्य सिन्हा, निदेशक(वित्त)  राम नारायण दुबे, निदेशक(तकनीकी/परियोजना एवं योजना)  एस एस सिन्हा के साथ ही जेसीसी सदस्यगण, सीएमओएआई के महासचिव  सर्वेश सिंह, मुख्यालय के महाप्रबंधकगण तथा अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहे |कार्यक्रम के दौरान  एसएस सिन्हा ने चेयरमैन , कोल इंडिया के संदेश का वाचन किया |इस अवसर पर महाप्रबंधक(पर्यावरण)  सी एस तिवारी ने उपस्थित सभी लोगों को शपथ दिलाई और पूरे वर्ष के दौरान एनसीएल द्वारा पर्यावरण के क्षेत्र में किए गए कार्यों से सभी को अवगत कराया |इसके पश्चात पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत किया गया एवं प्रतिभागियों द्वारा बनाई गयी कलाकृतियों का अवलोकन किया गया |विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में कार्यकारी निदेशक मण्डल एवं अन्य लोगों ने मुख्यालय परिसर में वृक्षारोपण किया |एनसीएल के सभी क्षेत्र व इकाइयों में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया | साथ ही वृहद स्तर पर वृक्षारोपण व पौधों का वितरण भी किया गया |गौरतलब है कि एनसीएल ने अपनी स्थापना से लेकर अभी तक लगभग 6040 हेक्टेयर में 2.47 करोड़ से अधिक पेड़ लगाए हैं | अगले पांच वर्षों में खदान परिक्षेत्र में लगभग 36.50 लाख पौधे लगाने कि योजना है जिससे लगभग 1500 हेक्टेयर भूमि का पुनरोद्धार होगा एवं प्रत्येक वर्ष लगभग 75000 टन कार्बन डाइ ऑक्साइड के उत्सर्जन में कमी आएगी |


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *