एनटीपीसी ने अपने संयंत्रों के 70,000 से अधिक टीकाकरण की सुविधा प्रदान की

एनटीपीसी के संयंत्रों में कोविड टीकाकरण संबंधी अभियान तेजी से जारी – कर्मचारियों, श्रमिकों और उनके परिवारों की सुरक्षा के लिए किए जा रहे हैं कड़े…

View More एनटीपीसी ने अपने संयंत्रों के 70,000 से अधिक टीकाकरण की सुविधा प्रदान की

मुख्यमंत्री ने वर्षा ऋतु के पहले समितियों से धान का उठाव करने के दिए निर्देश

रायपुर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्षा ऋतु के पूर्व समितियों से धान का उठाव सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं, जिसके तारतम्य में विभाग द्वारा…

View More मुख्यमंत्री ने वर्षा ऋतु के पहले समितियों से धान का उठाव करने के दिए निर्देश

अमन, भाईचारे और सदभाव का प्रतीक है ईद -फुज़ैल हाशमी

प्रयागराज।[ मनोज पांडेय]उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव फुज़ैल हाशमी ने लोंगो को ईद की तहेदिल से मुबारकबाद देते हुए त्योहार को अमन भाईचारे और…

View More अमन, भाईचारे और सदभाव का प्रतीक है ईद -फुज़ैल हाशमी

उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने एस.आर.एन. को 80 नये वेंटीलेटर मशीनें प्रदान की

प्रयागराज। [मनोज पांडेय]आज बुधवार को स्वरूपरानी चिकित्सालय पहुंचकर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने चिकित्सालय प्रशासन को कोविड-19 एवं अन्य गम्भीर मरीजों के उपचार के लिए…

View More उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने एस.आर.एन. को 80 नये वेंटीलेटर मशीनें प्रदान की

आपदा के इस दौर में आम-जन के साथ खड़े सांसद सिंधिया

प्रयागराज।[मनोज पांडेय] मध्य प्रदेश ग्वालियर से भाजपा राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया इस आपदा के दौर में आम-जन के साथ संवाद स्थापित कर उनके साथ खड़े रहने…

View More आपदा के इस दौर में आम-जन के साथ खड़े सांसद सिंधिया

डाईबीटीज़ इंसुलिन इंजेक्शन के प्रति भ्रम फैलाना रोका जाय – यूनाइटेड डाईबीटीज़ फोरम’

सरकार व स्वास्थ्य मंत्रालय सोसल मिडिया पर डाईबीटीज़ इंसुलिन इंजेक्शन के प्रति गलत भ्रम फ़ैलाने वालो को रोके– यूनाइटेड डाईबीटीज़ फोरम‘  मुंबई ।आजकल लोगों में डाईबीटीज़ (मधुमेह) की बीमारी काफी देखने को मिलती, जोकि आगे चलकर अन्य बीमारियों का कारण बनती है। जोकि दो प्रकार की होती है, एक टाईप १ जोकि ५ प्रतिशत मरीज़ों को ही होती है,जोकि ज्यादातर बच्चों में होती है और उसका इलाज केवल नियमित तौर पर इंसुलिन इंजेक्शन ही एक है और टाईप २ यह ९५ प्रतिशत मरीज़ो को होता है और यह दवाई व खानपान से कंट्रोल होता है और १० या १५ साल बाद इनमें से काफी लोगों को भीं इंसुलिन इंजेक्शन की जरुरत पड़ती है। टाईप १ डाईबीटीज़ जो ज्यादातर बच्चों में होता है, उसका इलाज केवल नियमित तौर पर इंसुलिन इंजेक्शन है,जोकि देश विदेश सभी जगह इसका इलाज एक ही है। लेकिन कुछ लोगो द्वारा सोसल मिडिया पर यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि इसका इलाज उनकी गोली ,योग व ध्यान इत्यादि से ठीक हो सकता है, जिससे लोगों के झांसे में आने के कारण यदि बच्चों इंसुलिन इंजेक्शन ना दिया गया या बंद कर दिया गया तो उनकी जान को खतरा पैदा हो सकता है इसलिए ‘ यूनाइटेड डाईबीटीज़ फोरम’ के अध्यक्ष डॉ. मनोज चावला, सेक्रेटरी डॉ. राजीव कोविल व ट्रैज़रर डॉ. तेजस शाह ने स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार व अन्य संस्थाओं को लेटर भेजकर आग्रह किया गया कि भ्रम फ़ैलाने को रोका जाय।             ‘ यूनाइटेड डाईबीटीज़ फोरम’ एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. मनोज चावला कहते है,”इंसुलिन पाचक ग्रंथि (पेंक्रिया) द्वारा बनाया जाता है,यह शरीर में कार्बोहाइड्रेट को एनर्जी में बदलने का काम इंसुलिन करती है। जब पेंक्रिया में इंसुलिन बनना बंद हो जाता है, ग्लूकोज एनर्जी में परिवर्तित नहीं हो पता है। और ब्लड वेसेल्स में जमा होकर डाइबिटीज़ की बीमारी का रूप ले लेता है। टाईप १ डाईबीटीज़ का इलाज केवल इंसुलिन इंजेक्शन यदि लोग गलत अफवाहों या बिना पढ़े लिखे के कहने में आकर इंसुलिन इंजेक्शन बंद करते है तो बच्चों की जिंदगी खतरे में आ सकती है इसलिए सरकार व स्वास्थ्य मंत्रालय सोसल मिडिया ऐसे गलत भ्रम फ़ैलाने वालो को रोके, इसलिए यह पत्र भेजा गया है । “

View More डाईबीटीज़ इंसुलिन इंजेक्शन के प्रति भ्रम फैलाना रोका जाय – यूनाइटेड डाईबीटीज़ फोरम’

मुख्यमंत्री ने अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस पर नर्सों को दीं शुभकामनाएं

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर सभी नर्सों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।अपने संदेश…

View More मुख्यमंत्री ने अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस पर नर्सों को दीं शुभकामनाएं

हाईकोर्ट के जज रहे विजय मनोहर सहाय का निधन

प्रयागराज। कई माह से अस्वस्थ चल रहे गुजरात हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस एवं इलाहाबाद हाईकोर्ट के न्यायाधीश रहे न्यायमूर्ति विजय मनोहर सहाय का लंबी बीमारी के…

View More हाईकोर्ट के जज रहे विजय मनोहर सहाय का निधन

मोबाइल भुगतान – दस साल पर, क्या बदल गया है?

परिचय जब 2004 में फिलीपींस के ग्लोब टेलीकॉम ने अपने G-CASH उत्पाद को 2000 में स्मार्ट, फिलीपींस में अन्य मोबाइल ऑपरेटर द्वारा लॉन्च किए गए…

View More मोबाइल भुगतान – दस साल पर, क्या बदल गया है?

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लाइफ साइकिल – प्रक्रिया को समझना और चयन करना

यदि आप किसी ऐसे सॉफ़्टवेयर या वेब डेवलपमेंट प्रोजेक्ट को अपनाने जा रहे हैं, जिसे आप अपने व्यवसाय को अगले स्तर पर ले जाने की…

View More सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लाइफ साइकिल – प्रक्रिया को समझना और चयन करना