Take a fresh look at your lifestyle.

शीर्ष फुटबालर भी विश्व कप में जगह नहीं बना पाते है: श्रेयस अय्यर

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय टीम में नहीं चुने जाने के दर्द से निपटने के लिए फुटबाल से प्रेरणा लेने वाले क्रिकेटर श्रेयस अय्यर ने शनिवार को यहां कहा कि अपने क्लबों के लिए शानदार खेल दिखाने के बाद भी कई खिलाड़ी फीफा विश्व कप के लिए अपने देश की टीम में जगह नहीं बना पाते हैं। उन्होंने शनिवार को देवधर ट्राफी के फाइनल में ताबड़तोड़ शतकीय पारी खेलने के बाद कहा, ‘‘ऐसा सिर्फ क्रिकेट में नहीं होता है, बल्कि फुटबाल और दूसरे खेलों में भी ऐसा ही होता है। आपने देखा होगा कि क्लबों के लिए शानदार खेलने वाले कई खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम में जगह नहीं मिलती । इन छोटी-छोटी बातों से मुझे वह करने की प्रेरणा मिलती है जो मैं अभी कर रहा हूं।

भारत बी की कप्तानी करते हुए फाइनल में अय्यर ने 148 रनों की पारी खेली। उन्हें राष्ट्रीय टीम के लिए छह एकदिवसीय और छह टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने का मौका भी मिला है लेकिन टीम के नियमित सदस्य नहीं बन पाये। अय्यर ने कहा,  मुझे इस बात का एहसास है कि ऐसा केवल मेरे नहीं बल्कि कई अन्य खिलाड़ियों के साथ भी हो रहा है।
अय्यर वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू और ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए चुनी गयी टी -20 टीम का हिस्सा हैं लेकिन कई बार बड़ा स्कोर बनाने के बाद भी उन्हें नजरअंदाज कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि पहले वह भी इन बातों से प्रभावित होते थे लेकिन अब इस पर ध्यान नहीं देते हैं। उन्होंने कहा, मैं लगातार मैच खेल रहा हूं।